Sarkari Naukri com

CHUNAUTI Challenge के बारे मै जानकारी

हेलो दोस्तों मै पिंकी यादव आपने आज के इस आर्टिकल CHUNAUTI Challenge के बारे मै जानकारी मै आपका हार्दिक स्वागत करती हूँ। आज मै आपको अपने इस पोस्ट के जरिये Chunauti चैलेंज के बारे मै जानकारी देने वाली हूँ। तो चलिए चलिए शुरुआत करते है…

CHUNAUTI Startup Challenge :

देश मै स्टार्टअप को मिलेगा बढ़ावा, रविशंकर प्रसाद ने लांच किया चुनौती स्टार्टअप चलेंगे

नई दिल्ली एएनआइ। देशभर मै स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए तरह-तरह प्रतियोगिताएं लेकर आ रहे , केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौधोगिकी (आईटी ) मंत्रालय ने एक नया और बहुत अच्छा कदम उठाया है।

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौधोगिकी मंत्री ,रविशंकर प्रसाद ने शुक्रवार को चुनौती नाम की नई पीढ़ी की स्टार्टअप प्रतियोगिता लांच की। इसका इरादा यह की ,ये देश के टायर-2 शहर पर ज्यादा ध्यान देते हुए स्टार्टअप और सॉफ्टवेयर उत्पादों को बढ़ावा देना है।

मंत्रालय की और से जारी आधिकारिक के मुताबिक, यह कार्यक्रम के लिए सरकार ने तीन साल के लिए 95 .03 करोड़ रूपए देना का निश्चित किया है|

इसका मकसद यह की ,कुछ गिने-चुने क्षेत्रों में काम कर रहे करीब 300 स्टार्टअप की पहचान करना,फिर उन्हें 25 लाख रूपए तक की राशि और बहुत से सुविधाएं भी उपलब्ध करना है।

चुनौती के दौरान मंत्रालय जिन भी क्षेत्रों के स्टार्टअप को निमंत्रण देगा, उनमे लोगो के लिए बहुत बढ़िया शिक्षा तकनीक ,वित्त तकनीक , कृषि तकनीक; आपूर्ति श्रृंखला,लॉजिस्टिक और परिवहन का प्रबंधन; बुनियादी ढाचा और दूर से नजर रखना ; चिकित्सा देखभाल, निदान, निवारक और मनोविज्ञानिक देखभाल ; रोजगार और कौशल, भाषा उपकरण और प्रौधोगिकी भी शामिल है।

CHUNAUTI Challenge के बारे मै जानकारी

कर्मचारियों के मुताबिक , पुरे देश मे सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्को के द्वारा फैले इन स्टार्टअप्स को इंक्यूबेशन सुविधा, मेंटरशिप, सुरक्षा परिक्षण सुविधाएं,

वेंचर कैपिटलिस्ट तक की पहुंच, उद्दोग के जुड़ने साथ ही साथ कानूनी सलाह, मानव संसाधन , आईपीआर और पेटेंट के मामलों मे भी सलाह दी जाएगी।

वैचारिक स्तर पर चल रहे स्टार्टअप को भी प्री-इन्क्यूबेशन के अंतर्गत चुनकर अपना बिज़नेस प्लान और सलूशन विक्सित करने के लिए 6 महीने तक की सलाह दी जाएगी।

प्री-इन्क्यूबेशन के दौरान हर एक के बदले मे 6 महीने तक 10000 रूपए प्रति माह की आर्थिक मदद भी की जाएगी।

अधिकारियों ने यह बताया की चुनौती चैलेंज से जुड़ने के इच्छुक स्टार्टअप्स एसटीपीआई की वेबसाइट पर जाकर https://innovate .stpine &t.in/ लिंक क्लिक करके अपना एप्लीकेशन जमा कर सकते है।

बिहार के मुजफ्फरपुर मे केंद्रीय मंत्री ने रास्टीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना पौधगिकी संसथान (एनआईईएलआईटी ) के डिजटल प्रशिक्षण और कौशल केंद्र का भी शुरुआत किया।

करीबन 9 .17 करोड़ रूपए की इस परियोजना के लिए बिहार के सरकार ने एक एकड़ जमीन भी दी है, जबकि इसे डेवलप्ड करने का काम ie मंत्रालय करेगा।

दोस्तों अगर आपको मेरा यह आर्टिकल चुनौती चैलेंज पसंद आया हो तो please इसे like and share करे।

CHUNAUTI Challenge के बारे मै जानकारी

Read More

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!