Sarkari Naukri com

Atal New India Challenge Details

Atal New India Challenge Details – हेलो दोस्त मेरा नाम पिंकी यादव है, आज मै आपको अपने इस पोस्ट के जरिये अटल न्यू इंडिया चैलेंजेज के बारे मै बताने वाली हूँ। तो चलिए शुरुआत करते है…

अटल न्यू इंडिया चैलेंज के बारे मे पूरी जानकारी – Atal New India Challenge Details

Atal New India Challenge

निति आयोग के अटल नविन मिशन ने 26 अप्रैल 2018 मै अटल न्यू इंडिया चैलेंजेज को लांच करने की घोसना की है, जो प्रधानमंत्री के नवीनताओं एवं पौधौगिकियो को लोगो के लिए योग्य बनाने के आह्वान के बाद अस्तित्व मै आया है।

संख्या, प्रयोजन एवं पौधौगिकियो को उतपाद के रूप मै उसे ढालने की क्षमता प्रदर्शन करने वाले निवेदको को एक करोड़ रूपए को धन दिया जायेगा। इस धन सहायता के बहुत सारे लोग सलाह देते है, हेडहोल्डिंग , इन्क्यूबेशन और वाणिज्यीकरण के अलग- अलग चरणों मै आवश्यक अन्य समर्थन भी प्रदान किये जायेंगे और इससे व्यापक परियोजना भी बनाया जायेगा।

भारत ने बहुत सारे अलग-अलग क्षेत्रों मै प्रौधोगिकी का लाभ उठाते हुए अपनी विकास की क्षमता को आगे बढ़या है। सड़क परिवहन और हाईवे, निवेश और श्री मामले, कृषि और किशन कल्याण, पिने का पानी और स्वच्छता मंत्रालयों तथा रेल बोर्ड के साथ भी समझदारी करने के जरिये एआईएम भारत के नवोन्मेषको की क्षमता का लाभ उठाने का पूरा प्रयास करेगा।

Read More:- Event Management Courses के बारे मै पूरी जानकारी

भारत ने बहुत सारे अलग-अलग क्षेत्रों मै प्रौधोगिकी का लाभ उठाते हुए अपनी विकास की क्षमता को आगे बढ़या है। सड़क परिवहन और हाईवे, निवेश और श्री मामले, कृषि और किशन कल्याण, पिने का पानी और स्वच्छता मंत्रालयों तथा रेल बोर्ड के साथ भी समझदारी करने के जरिये एआईएम भारत के नवोन्मेषको की क्षमता का लाभ उठाने का पूरा प्रयास करेगा।

अटल न्यू इंडिया चैलेंज,जो को पांच मंत्रालय के सहयोग से संचालित किया जायेगा, एआईएम के तहत 17 चिन्हो के क्षेत्रों पर फोकस किया गया है, जिनके नाम है ,

अटल न्यू इंडिया चैलेंज के फोकस एरिया

  1. जलवायु स्मार्ट कृषि
  2. सड़क ओर रेल के लिए फॉग विज़न सिस्टम
  3. रेल की विफलता का पहचान करना
  4. रोलिंग स्टॉक का पूर्वानुमानित रखरखाव
  5. वैकल्पिक ईंधन आधारित परिवहन
  6. स्मार्ट गतिशीलता:
  7. इलेक्ट्रिक गतिशीलता:
  8. सुरक्षित परिवहन
  9. तत्काल पोर्टेबल जल गुणवत्ता परिक्षण
  10. अपशिष्ट प्रबंधन रीसाइक्लिंग और पुनः उपयोग
  11. अफोर्डेबल देसलिनाशन / रीसाइक्लिंग टेक्नोलॉजी
  12. कचरा संरचना उपकरण
  13. खाद की गुणवत्ता
  14. विकेन्द्रीकृत कम्पोसिटिंग
  15. कम्पोसिटिंग के लिए मिश्रण ब्लेड
  16. सर्वाजनिक स्थानों मे अपशिष्ट
  17. सर्वाजनिक कूड़ेदान को दूर करना:

मिशन का उद्देश्य

एसओआई के एक हिस्से के तहत पुरे देश भर मे माध्यमिक स्कूली बच्चो के बिच विज्ञानं, प्रौधोगिकी ,इंजीनियरिंग और गणित की शिक्षा को बढ़ावा देना का उद्देश्य से वर्ष 2018 मे 100 अटल टिंकरिंग लैबों की जिम्मेदारी पांच वर्षो के लिए होगी। यह कार्यक्रम का उद्देश्य विद्यार्थियों के लिए डिजिटल रूपांतरण और इंटरनेट ऑफ थिंग्स जैसे की डिज़ाइन थिकिंग की विधि, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और अनुभवात्मक विज्ञानं शिक्षण से सम्बंधित उन्नत प्रौधोगिकी के विषयो को सीखने मे सक्षम बनाना है।

अटल टिंकरिंग लैब की विशेषताएं

  1. अटल टिंकरिंग लेब की स्थापना का लक्ष्य से अधिक और स्कूलों मे 250000 युवाओ को भविष्य के लिए अभिनव गुण प्रदान करना है।
  2. युवाओ के द्वारा तैयारी की गयी परियोजनाओ मे गुणवत्तापूर्ण सुधर के लिए परामर्शदाताओं के क्षमता निर्माण और मेकर इकोसिस्टम के साथ अपना संपर्क बढ़ाये,अवधारणा तैयार करने,डिज़ाइन के विषय पर चिंतन करने और उधोग जगत के विशेषज्ञ के माध्यम से करयासलये आयोजित करने मे इंटेल की ओर से निति अयोग्य को बड़ी सहायता भी मिलेगी।
  3. इसके अलाव इंटेल एक इनोवेशन फेस्टिवल का co – leadership करेगा, जिसमे 500000 युवा इन्वेस्टिगेटर अपनी पहुंच को कायम कर सकेंगे।
  4. निति अयोग्य के अनुसार यदि भारत को अगले तीन दशको मे निरंतर 9 से 10 प्रतिशत का दर बनाये रखना है तो या जरूर आवश्यक होगा की देश के समस्याओ के लिए बिलकुल नया समाधान के उपाय करने मे सक्षम हो।

अटल न्यू इंडिया चैलेंजेज के लक्ष्य ( Objectives )

  • नीति आयोग इस पहल का मदद से इनोवेशन और टेक्नोलॉजीज के जरिये मुख्या क्षेत्रों की प्रॉब्लम को हल करने का प्रयास करना चाहता है। ताकि नागरिको के लाइफ मई कुछ सुधार आ सके और देश मई रोजगार भी पैदा हो सकते है।
  • अटल न्यू इंडिया चैलेंजेज को शुरू करने का लक्ष्य इंनोवेटर्स को पौधौगिकियो के आधार पर उत्पाद बनाने मई हर तरह का मदद भी प्रदान करवाना है।

अटल न्यू इंडिया चैलेंज के लिए कौन आवेदन कर सकता है?

  • कंपनी Act 1956 /2013 के तहत शामिल कोई भी भारतीय कंपनी, मुख्या रूप से एक माइक्रो ,लघु और माध्यम उधम, जो की एमएसएमईडी Act ,2006 मै परिभाषित किये गए है। व अटल न्यू इंडिया चैलेंज के लिए आवेदन भी कर सकती है।
  • सरकारी या फिर निजी अनुसंधान अवं विकास संगठन और अकादमिक संस्थाने भी इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।
  • इसके लिए individual innovator भी इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है, बशर्तेउन्हें उपुक्त विनिर्माण क्षमताओ वाले संस्थाओ के साथ साझेदारी करनी होगी।

कैसे करें आवेदन?

अटल न्यू इंडिया चैलेंज के लिए जो लोग आवेदन करना चाहते हैं उन्हें आवेदन करने के लिए एआईएम वेबसाइट पर जाना होगा। या फिर वो सीधे http://aim.gov.in/atal-new-india-challenge.php की लिंक पर जा सकते है। अटल न्यू इंडिया चैलेंजेज के आवेदन से जुड़े इस लिंक पर आपको इस योजना से जुडी हुई सारी जानकारी मिल जाएगी।

आवेदन करने के लिए प्रक्रिया

  1. ऊपर बताये गए अटल न्यू इंडिया चैलेंजेज योजना से जुड़े बताये गए लिंक पर जाकर क्लिक करे फिर उसके बाद जो पेज खुलेगा आपको उस पेज के सबसे ऊपर ‘Apply now ‘ लिखा हुआ दिखाई देगा फिर आप उसपर जाकर क्लिक कर दे।
  2. जिसके बाद एक नया पेज खुलेगा। आपको उस पेज पर अपनी जानकारी भरने के साथ ही साथ अपने व्यापर के बारे मै कुछ जानकारी भी भरनी पड़ेगी।
  3. पूछी गयी जानकारी को सही भरने बाद आप इस फॉर्म को submit कर दे। इस तरह आप अटल न्यू इंडिया चैलेंजेज के लिए आपका फॉर्म जमा हो जायेगा।

दोस्त अगर आपको आज का मेरा यह आर्टिकल अटल न्यू इंडिया चैलेंजेज के बारे मै पसंद आया हो तो प्लीज आप इसे like and share करें।

Atal New India Challenge Details

Read More:-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!